6.5 C
London
Tuesday, March 5, 2024

राम मनोहर लोहिया नारा दिया और चुनाव जीतने के लिए कांग्रेस ने बहुत बड़ा कदम उठा दिया ?

- Advertisement -
- Advertisement -

राम मनोहर लोहिया नारा दिया करते थे- “पिछड़ा पावे सौ में साठ”. यानी राजनीति में हिस्सेदारी हो या संसाधनों पर अधिकार हो, पिछड़े वर्ग की हिस्सेदारी 60 फीसदी होनी चाहिए. लेकिन ‘बिहार का लेनिन’ कहे जाने वाले समाजवादी नेता जगदेव प्रसाद नारा दिया करते थे- “सौ में नब्बे शोषित और नब्बे भाग हमारा है…”. 90 फीसदी में वे पिछड़े, दलितों, आदिवासियों को भी जोड़ते थे. जगदेव प्रसाद एक और बात कहते थे कि हिंदुस्तानी समाज दो भागों में बंटा हुआ- “10 फीसदी शोषक और नब्बे फीसदी शोषित”. वहीं, बहुजन समाज पार्टी (BSP) के संस्थापक कांशीराम का नारा था- “जिसकी जितनी संख्या भारी, उसकी उतनी हिस्सेदारी.

राहुल गांधी के बयान और इन मांगों पर अब तक केंद्रीय मंत्रियों या बीजेपी नेताओं की प्रतिक्रिया नहीं आई है राम मनोहर लोहिया नारा दिया

राम मनोहर लोहिया नारा : ये सभी बातें जातिगत प्रतिनिधित्व को लेकर कही जाती थीं. इन बातों का निचोड़ ये था कि जिस जाति/समुदाय की जितनी आबादी है उसे उसका उतना हक मिले. अब लंबे समय बाद कांग्रेस ने एक कैंपेन शुरू किया है- “जितनी आबादी उतना हक.”

राम मनोहर लोहिया नारा : कांग्रेस ने केंद्र सरकार से जातीय जनगणना कराने और आरक्षण की सीमा बढ़ाने की मांग कर दी है. कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कर्नाटक के हुमनाबाद में एक जनसभा को संबोधित किया. उन्होंने कहा कि अगर हम ओबीसी को ताकत देना चाहते हैं तो पहले ये समझना होगा कि देश में ओबीसी कितने हैं. राहुल ने कहा,

राम मनोहर लोहिया नारा : हमें पता करना होगा कि देश में क‍ितने OBC, दल‍ित और आद‍िवासी हैं. अगर हमें यही नहीं मालूम तो उन्हें ताकत कैसे दे सकते हैं. जब 2011 में हमारी सरकार थी हमने जातीय जनगणना करवाई थी. पूरा का पूरा डेटा सरकार के पास उपलब्ध है. लेकिन नरेंद्र मोदी जी डेटा पब्लिक नहीं किया है, छिपाया हुआ है. दिल्ली की सरकार को मालूम है कि ओबीसी की आबादी कितनी है लेकिन वो बता नहीं रही.”

राहुल गांधी ने आगे कहा कि अगर मोदी जी ओबीसी को सचमुच आर्थिक और राजनीतिक ताकत देना चाहते हैं तो जनगणना के आंकड़ों को सार्वजनिक करें. उन्होंने कहा कि अगर आप नहीं करेंगे तो कांग्रेस पार्टी ये काम करके दिखा देगी, क्योंकि हम झूठे वादे नहीं करते.

इसी चुनावी रैली में राहुल गांधी ने केंद्र सरकार से मांग की है कि आरक्षण पर 50 फीसदी की सीमा को हटाया जाए. उन्होंने कहा कि दलित और आदिवासियों की जितनी आबादी है, उन्हें उतना आरक्षण दीजिए. राहुल ने ये भी कहा कि नरेंद्र मोदी जी ये काम कभी नहीं करेंगे.

राम मनोहर लोहिया नारा : हाल में “मोदी सरनेम” वाले बयान पर राहुल गांधी को दो साल की सजा हुई थी. बीजेपी ने उन पर ओबीसी वर्ग के अपमान का आरोप लगाया था. राहुल ने इसी रैली में कहा कि वे किसी का अपमान नहीं करते. उन्होंने कहा कि 9 साल हो गए, नरेंद्र मोदी जी ने OBC से वोट लिया लेकिन उनके लिए कुछ किया नहीं. राहुल गांधी ने कहा कि केंद्र सरकार में सिर्फ 7 फीसदी सच‍िव, OBC, दलित और आदिवासी वर्ग के हैं. उन्होंने कहा कि आंकड़ों की चर्चा करते हुए एक बार फिर कहा कि जिसकी जितनी आबादी है, उन्हें उतना आरक्षण दीजिए.

Resource : https://bit.ly/3L7kmVJ

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here