9.6 C
London
Monday, April 15, 2024

CM Yogi Janta Darbar Gorakhpur : में सीएम योगी ने सुनी फरियाद,अधिकारियो खुद तय करली अपनी जिम्मेदारी

- Advertisement -
- Advertisement -

सार
Janta Darbar Gorakhpur :गोरखपुर में जनता दर्शन में बड़ी संख्या में जमीन-जायदाद और इलाज के मामले में आए। तो मुख्यमंत्री ने जनता दर्शन में मौजूद अधिकारियों को जमीन की समस्या का समाधान जल्द से जल्द करने का निर्देश दिया।और साथ ही में इलाज के लिए धन की मांग को लेकर आए लोगों पर विशेष ध्यान देने को भी कहा। तो जनता दर्शन में बड़ी संख्या में जमीन-जायदाद और इलाज के मामले आए। मुख्यमंत्री ने जनता दर्शन में मौजूद अधिकारियों को जमीन की समस्या का समाधान जल्द से जल्द करने का निर्देश भी दिया। तो साथ ही इलाज के लिए धन की मांग को लेकर आए लोगों पर विशेष ध्यान देने को कहा।

विस्तार से जाने (Janta Darbar Gorakhpur)

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दो दिवसीय दौरे पर गोरखपुर में आए हुए हैं। जो गुरुवार की सुबह गोरखनाथ मंदिर के हिंदू सेवाश्रम में जनता दरबार लगा है ।इस मौके पर मौजूद अधिकारियों को सीएम ने निर्देश भी दिया कि हर किसी के साथ न्याय होना चाहिए।

पीड़ितों को थाने में ही हर हाल में न्याय मिलना चाहिए और दोषियों को जेल में डाला जाए। जो साथ ही अधिकारियों को भी निर्देश दिया है कि अधिकारियों को जनता का ख्याल रखना होगा। ठंड के मौसम में कोई भी बाहर ना सोए इसके लिए रैन बसेरों में उचित प्रबंध भी होना चाहिए।

जनता दर्शन में बड़ी संख्या में जमीन-जायदाद और इलाज के मामले में आए। तो मुख्यमंत्री ने जनता दर्शन में मौजूद अधिकारियों को जमीन की समस्या का समाधान जल्द से जल्द करने का निर्देश दिया। साथ ही इलाज के लिए धन की मांग लेकर आए लोगों पर विशेष ध्यान देने को भी कहा है ।

Janta Darbar Gorakhpur उन्होंने अधिकारियों से कहा कि आगे बढ़कर वह यह सुनिश्चित करें कि किसी भी व्यक्ति का इलाज धन के अभाव में रुकने न पाए।वहा बहुत से लोग जमीन के विवाद का मामला लेकर पहुंचे थे। इसके अलावा भी बहुत से इलाज के लिए धन देने की सिफारिश कर रहे थे।तो उन्होंने 300 से अधिक लोगों की समस्याएं भी सुनी।

गुरुवार की सुबह हमेशा की तरह तड़के अपने आवास से निकलने के बाद ही योगी ने सबसे पहले गुरु गोरखनाथ के दरबार में हाजिरी लगाई।तो विधि-विधान के साथ वैदिक मंत्रोच्चार के बीच उनका दर्शन-पूजन किया। फिर इसके बाद उन्होंने अपने गुरु ब्रह्मलीन महंत अवेद्यनाथ के समाधि स्थल पर जाकर शीश नवायाभी किया ।

Janta Darbar Gorakhpur मंदिर में परिसर के भ्रमण और गोसेवा के बाद वह हिंदू सेवाश्रम में गए, जहां सुबह से ही अपनी समस्या बताने के लिए लोग उनका इंतजार कर रहे थे। वे वहां आए हर-एक के पास खुद पहुंचकर उनका प्रार्थना-पत्र लिया। फिर प्रशासन से जुड़े मामलों का समस्यात्मक का आवेदन पत्र उन्होंने जिलाधिकारी कृष्णा करूणेश को ही दिया।

Resource :https://bit.ly/3Ro1Iuu

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here