Monday, July 22, 2024

Top 5 This Week

Related Posts

तिहाड़ में बैठे ने ( Sukkahs Chandrasekhar ) रैनबैक्सी वालों से 200 करोड़ कैसे ठग लिए, कहानी दिमाग हिला देगी

Sukkahs Chandrasekhar : की कहानियां सुनकर नटवरलाल को भी ईर्ष्या भी हो जाती होगी. क्योंकि महाठग के नाम से मशहूर हो चुके सुकेश ने ऐसे-ऐसे प्लान बनाकर लोगों से ठगा भी है कि कोई सोच भी नहीं सकता है . आजतक की खबर के मुताबिक उसने पिछले 15 साल में करीब 500 करोड़ रुपये तक ठगी की है.और सुकेश की एक और कहानी सामने भी आती है. और जेल में बैठे-बैठे उसने रैनबैक्सी वाले भाइयों को भी ठग लेता है. और इन्हें ठगने के लिए सुकेश ने चुना इनकी पत्नियों को.

जेल से कैसे ठगा ?

Sukkahs Chandrasekhar : दवा कंपनी रैनबैक्सी के मालिक शिविंदर सिंह और उनके भाई मलविंदर सिंह जेल में बंद होते हैं. दोनों भाइयों पर धोखोधड़ी का आरोप भी रहता है. दोनों करीब चार साल से जेल में रहते हैं. और इसीलिए सुकेश ने उनकी पत्नियों को पैसे लूटने का जरिया बनाया. इस मामले में सुकेश ने शिविंदर की पत्नी को ठगा था लेकिन अब ये भी सामने आया है कि उसने शिविंदर के भाई को मलविंर की पत्नी को भी ठगा होता है . कोर्ट के इस मामले में ED को सुकेश की 9 दिन की रिमांड देती है.

Sukkahs Chandrasekhar : सुकेश जिसको ठगता था उसे फोन लगाकर के कहता था कि वो सरकार में बड़ा अफसर होता है. उसने शिविंदर सिंह की पत्नी अदिति सिंह को भी फोन करके यही बोले . उसने अदिति से कहा कि वो केंद्रीय कानून सचिव अनूप कुमार बोल रहे है. आजतक की खबर के मुताबिक उसने अदिति से कहा कि शिविंदर को सरकार कोविड से निपटने के लिए बने पैनल में शामिल करना चाहती है. और सरकार उन्हें जल्द जेल से बाहर निकालने में मदद भी करेगी.

Sukkahs Chandrasekhar : कोविड का दौर चल रहा था. शिविंदर मेडिसिन फील्ड में बड़ा नाम होता हैं. ऐसे में उनकी पत्नी कोविड पैनल में शामिल करने वाली बात पर भरोसा करती है . सुकेश ने दोबारा फिर फोन किया. इस बार उसने अनूप कुमार को अंडर सेक्रेटरी बनकर फोन भी किया.और उसने सिर्फ भरोसा जीतने फोन किया था.

Sukkahs Chandrasekhar : लेकिन तीसरे फोन के साथ ही सुकेश ने पैसा की डिमांड शुरू कर देती है उसने अदिति से कहा कि वो पार्टी फंड में 20 करोड़ रुपये जमा भी कराए. मांग पूरी हुई. इसके बाद सुकेश ने डिमांग बढ़ा देती है . लेकिन वो नहीं रुकता है . अब उसने अदिति को डराना भी शुरू कर दिया. उसने कहा कि अगर मांगे नहीं तो उसके बच्चों को दिक्कत हो सकती है.

अदिति डर गई थी. उसने अपने गहने भी बेचे, और संपत्तियां भी बेची और उधार भी लेते है . और जून 2020 से मई 2021 के बीच अदिति ने 200 करोड़ दिए.

इतना सब हो गया है लेकिन अदिति को ये नहीं लगा कि वो गलत जाल में फंस गई हैं. लेकिन शिविंदर के खिलाफ मामला चल रहा था. ED की नजर बैंक खाते पर थी. जब अचानक से ट्रांज़ैक्शन ज्यादा हुए तो ED ने अदिति से पूछताछ करती है . तब जाकर अदिति को पूरा खेल समझ आया.

Sukkahs Chandrasekhar : कुछ सुकेश ने मलविंदर की पत्नी को भी ठगा. जापना में भी सुकेश की तरफ से फोन गया. जापना ने बताया है कि फोन पर उससे कहा कि केंद्रीय कानून सचिव अनूप कुमार के दफ्तर से बात हो रही है. फोन पर जापना से कहा गया कि उसने सरकार के बड़े-बड़े अफसरों से बात की है. और उनके पति की बाहर निकलने में मदद की जाएगी. सुकेश ने इसकी ऐवज में उससे 4 करोड़ रुपये भी ठगे. साढ़े 3 करोड़ उसने हॉन्गकॉन्ग के एक बैंक खाते में ट्रांसफर कर दिए है . और 50 लाख रुपये पीएम केयर फंड में होता है .

ये जानकारी ED ने कोर्ट में देती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Popular Articles